Difference between Virus and Malware

इस आर्टिकल में, हम Difference between Virus and Malware के बारे में जानेगें, लेकिन इससे पहले यह Virus और Malware क्या होता है यह जानना आवश्यक है।

कंप्यूटर और इंटरनेट के क्षेत्र में, दो शब्द वायरस और मैलवेयर हैं, जो आम तौर पर एक दूसरे के स्थान पर उपयोग किए जाते हैं, लेकिन वे एक-दूसरे से बिल्कुल अलग हैं।

अतः मैलवेयर और वायरस के बीच अंतर (Difference between Virus and Malware) जानना महत्वपूर्ण है क्योंकि ये दोनों शब्द technically एक दूसरे से अलग हैं।

What is Malware?

कोई भी कंप्यूटर सॉफ्टवेयर जो विशेष रूप से कंप्यूटर सिस्टम या कंप्यूटर नेटवर्क को नुकसान पहुंचाने लिए विकसित किया जाता है, Malware कहलाता है। Malware मूल रूप से कंप्यूटर सॉफ्टवेयर की उस श्रेणी में आता है, जो मुख्य रूप से कंप्यूटर या नेटवर्क को नुकसान पहुंचाने के लिए डिज़ाइन की गई है।

What is Virus?

कंप्यूटर में, वायरस एक नुकसानदेह (Malicious) कंप्यूटर प्रोग्राम है जो स्वयं की कॉपी (replicate) बना सकता है तथा कम्प्यूटर के विभिन्न कार्यों में बाधा पहुँचाता है।

Difference between Virus and Malware
Difference between Virus and Malware

उपरोक्त परिभाषाओं के अनुसार, मैलवेयर एक ऐसा सॉफ़्टवेयर है जो होस्ट कंप्यूटर को संक्रमित कर सकता है। जबकि, वायरस अपने आप में एक प्रकार का मैलवेयर है। यह पहले फ़ाइलों को संक्रमित करता है और फिर जब भी उस फ़ाइल या प्रोग्राम को चलाया जाता है, तो डिवाइस के माध्यम से फैलता है।

Difference between Virus and Malware यह है कि एक वायरस एक कंप्यूटर प्रोग्राम या एक कोड है जो सिस्टम को इन्फेक्ट करने या सिस्टम की स्पीड को कम करने के लिए खुद की कॉपी बना लेता है, जबकि मैलवेयर एक ऐसा शब्द है जिसके अंतर्गत वे सभी सॉफ़्टवेयर आते हैं, जो कंप्यूटर सिस्टम को नुकसान पहुंचाने या प्रतिकूल रूप से प्रभावित करने के लिए डिज़ाइन किए जाते हैं।

Difference between Virus and Malware

मुख्य Difference between Virus and Malware का वर्णन निम्न तालिका में किया गया है

ParameterVirusMalware
फुल फॉर्मवाईटल इनफार्मेशन रिसोर्स अन्डर सीज़ (Vital Information Resources Under Seize)मैलिशियस सॉफ्टवेयर(Malicious Software)
विवरणवायरस एक मैलिशियस कोड है जोकि एक दूसरी एक्सिक्युटेबल(executable) फाइल से जुड़ा होता है, जोकि हानिरहित हो सकता है या डेटा को मॉडीफ़ाई या डिलीट कर सकता है।मैलवेयर एक प्रोग्राम है जिसे किसी दूसरे कंप्यूटर सिस्टम को एक्सेस करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, यह यूजर की अनुमति के बिना, किसी तीसरे व्यक्ति के लाभ के लिए कम्प्यूटर सिस्टम को एक्सेस करता है।  
परिभाषावायरस एक Malicious कंप्यूटर प्रोग्राम है जो किसी भी कंप्यूटर सिस्टम की परफॉरमेंस को कम करने के लिए स्वयं की copies बनाने में सक्षम होता है।मैलवेयर कंप्यूटर सॉफ़्टवेयर की उस श्रेणी का प्रतिनिधित्व करता है जो कंप्यूटर सिस्टम को नुकसान पहुंचाने के लिए डिज़ाइन किए गए।
प्रभाववायरस प्रायः कंप्यूटर सिस्टम की परफ़ॉर्मेन्स को प्रभावित करते हैं। यदि वायरस किसी कंप्यूटर सिस्टम पर अटैक करता है तो-   प्रोसेसिंग की स्पीड कम हो सकती है। स्क्रीन पर बहुत सारे पॉप-अप दिखाई दे सकते हैं। पासवर्ड रीसेट हो सकते है।विभिन्न प्रोग्राम खुद को एक्सक्यूट करना शुरू कर सकते हैं।यदि कोई मैलवेयर सॉफ़्टवेयर आपके कंप्यूटर डिवाइस पर अटैक करता है या अपना प्रभाव डालता है, तो हो सकता है:   व्यक्तिगत जानकारी को प्राप्त करने का प्रयास करें। सेव किए गए कार्ड या पेमेंट डीटेल आदि जैसे डेटा को चोरी करें आदि।
रिमूवल (Removal)वायरस को  antiviruses की सहायता से आसानी से रिमूव किया जा सकता है या हटाया जा सकता है।कुछ मैलवेयर प्रोग्राम्स को हटाने के लिए एडवांस्ड सॉफ़्टवेयर या टेक्नॉलजी की आवश्यकता हो सकती है, जैसेकि Firewall, network security tools आदि।
ऐक्टीवेशन/triggeringवायरस प्रायः यब activate होते हैं, जब यूजर कम्प्यूटर पर कोई कार्य करता है।Malware स्वयं ही ट्रिगर हो जाते हैं जब  उन्हे इंस्टॉल किया जाता है या कम्प्यूटर को स्टार्ट किया जाता है।
टाइप्सVirus के कुछ टाइप इस प्रकार हैं: 

Boot sector – बूट सेक्टर
Multipartite – मलटीपार्टाइट
Spacefiller – स्पेसफिलर
Resident – रेज़िडेन्ट
Polymorphic – पॉलिफॉर्मिक
File infector – फाइल इंफेक्टर
Direct Action – डायरेक्ट एक्शन
Macro – मैक्रो
Malware के प्रकारों में शामिल हैं:

Virus – वायरस
Trojan – ट्रोजन
Worm – वर्म
Ransomware – रैन्समवेयर
Spyware – स्पाइवेयर
Adware – ऐडवेयर
उदाहरण एंटीवायरस/ एंटी-मैलवेयरAntivirus software के उदाहरण हैं –

McAfeeमैकफी
Norton – नॉर्टन
Avast – अवास्ट
Kaspersky – कैस्परस्की
Anti-Malware software के उदाहरण

Total AV – टोटल एवी
Bitdefender – बिटडेफ़ेंडर
Malwarebytes – मालवेयरबाइट्स
Hitman Pro – हिटमैन प्रो
Difference between Virus and Malware

मैलवेयर और वायरस दोनों ही कंप्यूटर सिस्टम या कंप्यूटर नेटवर्क को नुकसान पहुंचाने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। Difference between Virus and Malware यह है कि वायरस एक प्रकार का मैलवेयर है जो खुद को दोहरा सकता है और सिस्टम की परफ़ॉर्मेंन्स को प्रभावित करने के लिए अन्य कंप्यूटर सिस्टम में फैल सकता है, जबकि मैलवेयर एक ऐसा शब्द है जिसका उपयोग सभी प्रकार के मलिशस प्रोग्राम्स का प्रतिनिधित्व करने के लिए किया जाता है।

FAQ on Difference between Virus and Malware

वायरस और मैलवेयर के बीच मुख्य अंतर क्या है?

मैलवेयर एक प्रकार का नुकसान पहुँचने वाला(malicious) सॉफ़्टवेयर है, जो होस्ट कंप्यूटर को इन्फेक्ट कर सकता है। जबकि, वायरस अपने आप में एक प्रकार का मैलवेयर है। यह पहले फ़ाइलों को इन्फेक्ट करता है और फिर जब भी उस फ़ाइल या प्रोग्राम को चलाया जाता है, तो डिवाइस के माध्यम से फैलता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top