National Bird of India – Peacock

मोर को भारत का राष्ट्रीय पक्षी(National bird of India) माना जाता है। यह भारत के राष्ट्रीय प्रतीकों में से एक है। भारत सरकार ने 1963 में 1 फरवरी मोर को भारत का राष्ट्रीय पक्षी घोषित किया गया था। इस आर्टिकल में आप National bird of India के बारे में कुछ रोचक फैक्ट्स के बारे में जान सकेंगे।

Why Peacock is National Bird of India?

मोर या पावो क्रिस्टेटस(Pavo Cristatus) को निम्नलिखित विभिन्न कारणों से भारत का राष्ट्रीय पक्षी माना जाता है:

• यह हमारे देश में व्यापक रूप से पाया जाता है।
• मोर हमारी परंपराओं से जुड़ा हुआ है (भारतीय परंपराओं में, मोर के पंख को बुद्धि से संबंधित बताया जाता है)।
• इसके अलावा, भगवान कृष्ण को मोर के पंख के साथ चित्रित किया जाता है।
• आम आदमियों के द्वारा इसे आसानी से पहचाना जा सकता है।
• इसका उपयोग सरकार द्वारा प्रकाशनों के लिए भी किया जा सकता है।
• इसका हमारे मिथकों और किंवदंतियों के साथ गहरा संबंध है। भारतीय पौराणिक कथाओं में, मोर को भगवान मुरुगन का वाहन बताया गया है।

National Flag of IndiaNational River of India
Currency Symbol of IndiaNational song of India

National Bird of India

Facts about the National Bird of India

हमारे राष्ट्रीय पक्षी मोर के बारे में कुछ महत्वपूर्ण तथ्य इस प्रकार हैं –

  1. भारतीय मोर को भारत का राष्ट्रीय पक्षी कहा जाता है। मोर हंस जैसे पक्षी होते हैं, जो भारत, श्रीलंका, बांग्लादेश, नेपाल और म्यांमार के मूल निवासी हैं।
  2. मोर को एक फरवरी 1963 को भारत के राष्ट्रीय पक्षी के रूप में मान्यता दी गई थी।
  3. मोर देश के भीतर व्यापक रूप से पाए जाते है और आम आदमी इनको आसानी से पहचान सकता है।
  4. मोर का प्राचीन भारतीय कला और वास्तुकला में अत्यधिक प्रयोग किया गया है और साथ ही भारतीय परंपराओं में इसका धार्मिक और पौराणिक संबंध भी है।
  5. हिंदू धर्म में, मोर को बारिश और युद्ध के देवता इंद्र की छवि के रूप में चित्रित किया गया है।
  6. भारतीय वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम, 1972 के तहत मोरों को पूर्ण सुरक्षा प्रदान की गई है।
  7. मोर को हिंदुओं द्वारा पवित्र पक्षी माना गया है। यह पक्षी भगवान शिव के पुत्र भगवान मुरुगन से संबंधित है।
  8. मोर सर्वाहारी(Omnivorous) होते हैं, जो कम ऊंचाई वाले घास के मैदानों, जंगलों और निकटवर्ती आवासों में पाए जाते हैं।
  9. मौर्य वंश के संस्थापक, चंद्रगुप्त मौर्य को मोर को वश में करने वाले – मयूर-पोशाखा की संतान माना जाता था।
  10. IUCN रेड लिस्ट के अनुसार मोर सबसे कम चिंता वाली प्रजातियों की श्रेणी में आता है।

FAQ on Facts About National Bird of India

Q 1. मोर को भारत का राष्ट्रीय पक्षी क्यों चुना गया?

Ans. भारतीय परंपराओं में मोर की पारंपरिक, ऐतिहासिक और पौराणिक भागीदारी ने इसे देश के राष्ट्रीय पक्षी के रूप में घोषित किया।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top