Warranty and Guarantee

इस पोस्ट में हम Warranty and Guarantee के बारे में जानेगें। लेकिन इससे पहले यह जानना आवश्यक है कि Warranty and Guarantee होता क्या है

Warranty क्या होता है

Warranty किसी भी प्रोडक्ट के निर्माता (manufacturer) का लिखित आश्वासन होता है, जोकि प्रोडक्ट खरीदने वाले कस्टमर को दिया जाता है। जिसमें यह लिखा होता है कि प्रोडक्ट को क्वालिटी, परफॉरमेंस, ड्यूरेबिलिटी आदि के संदर्भ में अच्छी तरह से बनाया गया है।

यदि इसमें कोई शिकायत आती है और यदि प्रोडक्ट Warranty period में है, तो कंपनी प्रोडक्ट को ठीक करेगी या उसके खराब पार्ट को बदल देगी। वारंटी ज्यादातर इलेक्ट्रॉनिक उपकरण और मशीनों आदि को दी जाती है।

Warranty And Guarantee

Guarantee क्या होता है

गारंटी के अनुसार यदि उत्पाद कम गुणवत्ता का है और वादा किए गए तथ्यों को पूरा नहीं करता है, तो उत्पाद की मरम्मत जाएगी या रिप्लेस किया जायगा।

वारंटी के विपरीत, गारंटी में यदि किसी उत्पाद की मरम्मत नहीं की जा सकती है और उसे बदलने के लिए कोई उत्पाद नहीं है, तो खरीदार द्वारा भुगतान किया गया पैसा वापस कर दिया जाएगा। वॉरन्टी के समान गारंटी भी एक सीमित सीमा अवधि के लिए होती है।

Benefits of Warranty and Guarantee

Warranty and Guarantee के कुछ लाभ इस प्रकार हैं –

Warranty

  • वारंटी अवधि के भीतर कोई निर्माता दोष होने पर उपभोक्ता के पास अपने प्रोडक्ट को ठीक कराने या बदलने का विकल्प होगा।
  • उपभोक्ताओं को मरम्मत या सेवाओं के लिए भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है जब उत्पाद वारंटी अवधि के भीतर स्थित है। यदि प्रोडक्ट वॉरन्टी के period में खराब होता है तो उपभोक्ता को प्रोडक्ट को ठीक कराने के लिए किसी प्रकार के भुगतान की आवश्यकता नहीं होती है वह warranty card (जोकि प्रोडक्ट के साथ दिया जाता है) दिखा कर प्रोडक्ट को ठीक कर सकते हैं।
  • उपभोक्ता कुछ राशि का भुगतान करके अतिरिक्त वारंटी अवधि का लाभ उठा सकते हैं।

Guarantee

  • उपभोक्ता के पास अपने प्रोडक्ट को रिपेयर, रिप्लेस करने का या धन वापसी(refund) का विकल्प होत है।
  • जब तक प्रोडक्ट गारंटी period में होता है तब तक प्रोडक्ट को रिपेयर कराने के लिए कोई पैसा नहीं देना होत है।
  • यदि manufacturer प्रोडक्ट को रिपेयर या रिप्लेस नहीं कर पता तो उसे उपभोक्ता को धन वापस(refund) करना होता है।
  • कुछ अतिरिक्त राशि का भुगतान करके गारंटी को वारंटी के साथ जोड़ा जा सकता है। जिससे गारंटी पीरियड के पूरा होने के बाद उपभोक्ता वारंटी का लाभ उठा सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top