Modicare Vitamin D – Benefits, Price & Dose

यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है, कि Vitamin D की कमी दुनिया भर में पोषण संबंधी कमियों में से एक है। आज हम इस पोस्ट में हम Modicare Vitamin D के बारे में जानेगें व इसे पर्याप्त मात्रा में लेना क्यों महत्वपूर्ण है।

Vitamin D
Modicare vitamin D

Vitamin D – महत्वपूर्ण तथ्य

  • विटामिन डी को सनशाइन विटामिन भी कहा जाता है क्योंकि जब हमारी त्वचा सूर्य के प्रकाश के संपर्क में आती है तब शरीर इसे कोलेस्ट्रॉल से बनाता है।
  • यह Fat में घुलनशील विटामिन है, जो आपके शरीर को कैल्शियम और फास्फोरस को अवशोषित (absorb) करने में मदद करता है।
  • हड्डियों को मजबूत बनाने और बनाए रखने के लिए विटामिन डी, कैल्शियम और फास्फोरस की सही मात्रा होना जरूरी है।
  • इसका का उपयोग हड्डियों के विकारों (जैसे रिकेट्स) के इलाज और रोकथाम के लिए किया जाता है।
  • यह विटामिन शरीर द्वारा तब बनता है जब हम सूर्य के प्रकाश के संपर्क में आते हैं।
  • सनस्क्रीन का अधिक इस्तेमाल , सुरक्षात्मक कपड़े, सूर्य की रोशनी में न बैठना, त्वचा का रंग गहरा होना आदि की वजह से धूप से पर्याप्त विटामिन डी नहीं प्राप्त होत हैं।
  • कैल्शियम के साथ विटामिन डी का उपयोग ऑस्टियोपोरोसिस के इलाज या रोकथाम के लिए किया जाता है।
  • इसका उपयोग गुर्दे की बीमारी में कैल्शियम के स्तर को सामान्य रखने और हड्डियों के सामान्य विकास के लिए किया जा सकता है।
  • Vitamin D एक आवश्यक विटामिन है जो शरीर में कैल्शियम और फास्फोरस को नियंत्रित करने में मदद करता है।
  • यह हड्डियों की बनावट को बनाए रखने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  • इस के विभिन्न रूप हैं, जिनमें एर्गोकैल्सीफेरोल (विटामिन डी 2) और कोलेकैल्सीफेरोल (विटामिन डी 3) शामिल हैं।
  • विटामिन डी मछली, अंडे और फोर्टिफाइड दूध आदि में भी पाया जाता है।
  • यह सूर्य के प्रकाश के संपर्क में आने पर त्वचा में भी बनता है। सूरज की रोशनी की अवधि के दौरान, विटामिन डी वसा में जमा हो जाता है।
  • Vitamin D की कमी के इलाज और रोकथाम के लिए आमतौर पर विटामिन डी supplements का उपयोग किया जाता है। जिन लोगों को पर्याप्त धूप नहीं मिलती है उन लोगों में इसकी कमी का खतरा होता है।
  • लोग कमजोर हड्डियों, हृदय रोग, अस्थमा, हे फीवर और कई अन्य स्थितियों के लिए भी विटामिन डी का उपयोग करते हैं

Check Products in Modicare Shop

Vitamin D की कमी के लक्षण

विटामिन डी की कमी को नोटिस करना मुश्किल हो सकता है क्योंकि इसके लक्षण कई महीनों या वर्षों तक पता नहीं चलते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए, यह जानना आवश्यक है कि हमें किन लक्षणों पर ध्यान देना है। इसकी कमी के लक्षणों में से कुछ इस प्रकार हैं –

  • बार-बार बीमारी या संक्रमण (infections) होना।
  • थकान कई कारणों से हो सकती है, जिनमें से एक विटामिन डी की कमी हो सकती है।
  • हड्डियों और पीठ के निचले हिस्से में दर्द का कारण विटामिन डी की कमी हो सकती है।
  • डिप्रेशन की समस्या का एक कारण विटामिन डी की कमी हो सकती है।
  • विटामिन डी का स्तर बहुत कम होने से घाव धीरे – धीरे भरते हैं।
  • हड्डियों को नुकसान
  • बाल झड़ना
  • मांसपेशियों में दर्द
  • भार (weight) बढ़ना
  • विटामिन D की कमी से anxiety की समस्या हो सकती है।

Side Effects

उचित मात्रा में लेने पर vitamn D सुरक्षित होता है। अधिकांश लोगों को विटामिन डी के दुष्प्रभाव का अनुभव नहीं होता है, जब तक कि यह बहुत अधिक मात्रा में नहीं लिया जाता है। बहुत अधिक विटामिन डी लेने के कुछ दुष्प्रभावों में कमजोरी, शुष्क मुँह, उल्टी आदि शामिल हैं।

प्राइस व डोज़

1 सॉफ़्टजेल प्रतिदिन या डॉक्टर के निर्देशानुसार।

Modicare vitamin D – Price 499 रू (60 N)

Avail 10% Discount on Modicare Products

जैसा कि हमने जाना कि विटामिन डी के कई लाभ हैं : यह कुछ बीमारियों के रिस्क को कम कर सकता है, मूड को बेहतर बनाने और डिप्रेशन के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है और वजन को मैनेज करने में मदद कर सकता है।
विटामिन डी की कमी बहुत आम है, लेकिन इसके लक्षण अक्सर जानना मुश्किल हो सकता है।यदि आपको लगता है कि आपमें कोई कमी हो सकती है, तो डॉक्टर से रक्त परीक्षण के बारे में बात करें ।
विटामिन डी की कमी का आमतौर पर supplement के साथ इलाज किया जाता है, लेकिन सही खुराक लेने के लिए आपको डॉक्टर की सलाह लेना जरूरी है।

Check More Products in Modicare’s Shop

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top