National Emblem of India – State Emblem

भारत का राष्ट्रीय प्रतीक(National Emblem of India) जिसे अशोक स्तंभ (सारनाथ, उत्तर प्रदेश में स्थित) के सिंह शीर्ष से लिया गया है। भारत ने इसे 26 जनवरी 1950 को राज्य प्रतीक (State Emblem) के रूप में अपनाया। भारतीय राष्ट्रीय प्रतीक(National Emblem of India) का आदर्श वाक्य है ‘सत्यमेव जयते’ अर्थात ‘सत्य की ही विजय होती है।’

इस आर्टिकल में भारत के राष्ट्रीय प्रतीक की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि, प्रतीक से संबंधित नियम आदि के बारे में जानकारी दी गई है। भारत का State Emblem भारत के राष्ट्रीय प्रतीकों में से एक है।

राष्ट्रीय प्रतीक भारतीय गणराज्य का प्रतिनिधित्व करता है। राष्ट्रीय प्रतीक उत्तर प्रदेश के सारनाथ में अशोक स्तंभ के सिंह शिखर(Lion Capital) पर आधारित है।

भारत में सभी आधिकारिक उद्देश्यों के लिए राष्ट्रीय प्रतीक का उपयोग किया जाता है। आधिकारिक कार्यों के लिए इसका उपयोग मुहर के रूप में किया जाता है।

भारत सरकार द्वारा स्वीकृत राष्ट्रीय प्रतीक में, केवल तीन शेर दिखाई देते हैं, चौथा शेर पीछे बैठा होने के कारण नहीं दिखता है। अबेकस के केंद्र में चक्र है, बाईं ओर एक घोड़ा और दाईं ओर एक बैल के साथ पहिया उभरा हुआ दिखता है। सबसे दाईं और बाईं ओर अन्य पहियों की रूपरेखा दिखाई देती है। घंटे के आकार का कमल इसमें नहीं दिखता है।

National Emblem of India
National Emblem of India

Some Facts about National Emblem of India

  1. सम्राट अशोक द्वारा निर्मित अशोक स्तंभ में चार शेर हैं जो शक्ति, साहस, आत्मविश्वास और गर्व का प्रतीक हैं।
  2. स्तंभ पर अन्य जानवर घोड़े, बैल, हाथी हैं।
  3. हाथी बुद्ध की शुरूआत को दर्शाता है (बुद्ध के जन्म से पूर्व उनकी मां ने सपने में एक सफेद हाथी को अपने गर्भ में प्रवेश करते हुए देखा था।)।
  4. बैल बुद्ध की राशि वृषभ(Taurus) का प्रतीक है।
  5. घोड़ा बुद्ध के घोड़े को दर्शाता है, जिस पर उन्होंने किले से प्रस्थान करते समय सवारी की थी।
  6. शेर आत्मज्ञान का संकेत देता है।
  7. सभी अशोक स्तंभों को एक ही क्षेत्र के कारीगरों द्वारा चुनार और मथुरा के पत्थर का उपयोग करके बनाया गया था।
  8. प्रत्येक स्तंभ की ऊंचाई लगभग 40 से 50 फीट है, और प्रत्येक का वजन 50 टन तक है।
  9. केवल छह स्तंभ जानवरों की राजधानियों(animal capitals) के साथ और उन्नीस स्तंभ शिलालेखों के साथ मौजूद हैं।
  10. स्तंभों पर उत्कीर्णन बौद्ध सिद्धांतों पर आधारित नैतिकता के बारे में घोषणाओं का वर्णन करता है।
  11. स्तंभों पर की गई नक्काशी में बौद्ध सिद्धांतों पर आधारित नैतिकता के बारे में उद्घोषणाओं का वर्णन किया गया है।
  12. राष्ट्रीय प्रतीक(National Emblem of India) के नीचे ‘सत्यमेव जयते’- ‘सत्य की विजय होती है’ का नारा अंकित किया गया है।
  13. सत्यमेव जयते’ का नारा पवित्र हिंदू वेदों के अंतिम भाग मुंडक उपनिषद का एक quote है।
  14. राष्ट्रीय प्रतीक को भारत के राष्ट्रपति और केंद्र और राज्य सरकारों की आधिकारिक मुहर के रूप में इस्तेमाल किया जाता है तथा यह भारत सरकार के आधिकारिक लेटरहेड का एक अनिवार्य(Mandatory) हिस्सा है।
  15. राष्ट्रीय प्रतीक सभी भारतीय मुद्रा और भारत के राष्ट्रीय पासपोर्ट का एक हिस्सा है।
  16. भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों (आईपीएस) की टोपी पर राज्य का प्रतीक चिह्न को चित्रित किया गया हैं।
  17. सांसद भी अपने लेटरहेड और विजिटिंग कार्ड पर राज्य के प्रतीक चिह्न का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  18. अगर कोई व्यक्ति राष्ट्रीय प्रतीक(National Emblem of India) के उपयोग से संबंधित कानून को तोड़ता है तो उसको दो साल तक की कैद या 2000 रुपये तक का जुर्माना देना पड़ सकता है।
  19. ऐसा कहा जाता है कि दीनानाथ भार्गव शेर को चित्रित करने से पहले कोलकाता के अलीपुर चिड़ियाघर में शेर को देखने जाते थे।

More National Symbols of India

Currency symbol of IndiaNational Bird of IndiaNational River of India
National flag of IndiaNational Song of indiaCalander of India

भारत के राष्ट्रीय प्रतीक(National Emblem of India) को निम्नलिखित सार्वजनिक भवनों में इस्तेमाल किया जा सकता है:

  1. राष्ट्रपति भवन (Rashtrapati Bhawan)
  2. संसद भवन (Parliament House)
  3. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court)
  4. केन्द्रीय सचिवालय भवन (Central Secretariat buildings)
  5. राज भवन या राज निवास (Raj Bhawan or Raj Niwas)
  6. राज्य विधानमंडल (State Legislature)
  7. हाई कोर्ट (High Courts)
  8. राज्यों या केंद्र शासित प्रदेशों के सचिवालय भवन (Secretariat buildings of the States or the Union territories)
  9. विदेश में भारत के राजनयिक मिशन का परिसर (Premises of India’s Diplomatic Mission abroad)
  10. मान्यता प्राप्त देशों में मिशन प्रमुखों के आवास(Residences of Heads of Missions in the countries of their accreditation)
  11. विदेशों में भारत के वाणिज्य दूतावासों के भवनों के प्रवेश द्वार पर

FAQ on National Emblem of India

भारतीय के राष्ट्रीय प्रतीक(National Emblem of India) को कब अपनाया गया था?

भारत के राष्ट्रीय प्रतीक को 26 जनवरी, 1950 को भारत सरकार द्वारा अपनाया गया था।

भारतीय राष्ट्रीय प्रतीक पर चार शेरों का क्या अर्थ है?

भारत के राष्ट्रीय प्रतीक पर चार शेर साहस, शक्ति, गर्व और आत्मविश्वास का प्रतीक हैं।

भारत के राष्ट्रीय प्रतीक को किसने डिजाइन किया था?

दीनानाथ भार्गव ने भारत के राष्ट्रीय प्रतीक को डिजाइन किया था। उन्हें भारतीय संविधान के पहले पृष्ठ के लिए प्रतीक डिजाइन करने का कार्य दिया गया था।

भारत के राष्ट्रीय प्रतीक का आदर्श वाक्य क्या है?

भारत के राष्ट्रीय प्रतीक का आदर्श वाक्य ‘सत्यमेव जयते’ है जिसका अर्थ है सत्य की ही विजय होती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top